Followers

Friday, 13 July 2012

सुभोरूप दासगुप्ता का शोध कार्य...


प्यारे दोस्तों,
भारतीय ब्लॉगिंग की दुनिया में श्री सुभोरूप दासगुप्ता के नाम को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है. नि:संदेह वे एक उच्च  श्रेणी के लेखक हैं.
उनके ब्लॉग http://subhorup.blogspot.com/ के द्वारा हम सब उन्हें भली भांति जानते हैं. सुभोरूप की अद्वितीय लेखन शैली की सर्वत्र प्रशंसा की जाती रही है.
सुभोरूप की विभिन्न विषयों पर विवेचनात्मक व्याख्या, गहन अध्ययन और गहरी पकड़ उनके लेखन में सर्वथा दिखाई देती है.
उनकी भाषा न तो साधारण बोल-चाल की भाषा है और न ही पांडित्य प्रदर्शित करती हुई दुरूह, क्लिष्ट लेखनी है जिसे समझने के लिए पाठक को स्वयं एक विद्वान होना ज़रूरी हो.
सुभोरूप की भाषा परिष्कृत और परिमार्जित है और पाठकों के ह्रदय में सीधे उतरती है.
उनकी ताज़ा पोस्ट http://subhorup.blogspot.in/2012/07/hindi-poetry-blogs-blogging.html#comment-form हिंदी के ब्लॉगिंग कवियों पर आधारित है, और हमारे लिए उत्साह, हर्ष एवं सम्मान का विषय है.
श्री दासगुप्ता को प्यार से सब साथी सुभो नाम से पुकारते हैं, और उनके विषय में अधिक कुछ कहना मेरी सीमित क्षमताओं से परे की बात है. 
अपने और सभी हिंदी कवि साथियों की ओर से मैं सुभो को इस पोस्ट के लिए एक प्यार भरा धन्यवाद देता हूँ!

सुभोरूप दासगुप्ता के अन्य ब्लॉग इस प्रकार हैं:


19 comments:

  1. a million thanks to mr subhorup for mentioning my blog...
    and thanks to u too amit ji.
    :-)

    regards
    anu

    ReplyDelete
  2. Hi frnd,

    The life time opportunity indeed. All of these posts are worthy having some standards.
    Great job!
    More jobs available at Indian Job Vacancies at http://www.indianjobsguide.com

    Friends, daily u use to LIKE hundreds of posts from Facebook, which will never be useful to you.I am working for you all in providing indian jobs, Bank jobs and Government jobs information on facebook. In this regard, we need your support to our facebook page https://www.facebook.com/indianjobsguide

    Please access and click on LIKE button. This small like will give you instant updates of indian jobs, Bank jobs and Government jobs information and also help us in growing more and more..

    I liked ur blog and I hope you will do same for my blog www.facebook.com/indianjobsguide.

    Thank q

    ReplyDelete
  3. read that post. will read it again later peacefully. just wanted to know what that post is all about. whenever people talk about Hindi bloggers, your name will be there because you are cool :D

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thank you Deb:) I'm indebted to you for your love:)

      Delete
  4. बहुत बढ़िया प्रस्तुति!
    आपकी प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (14-07-2012) के चर्चा मंच पर लगाई गई है!
    चर्चा मंच सजा दिया, देख लीजिए आप।
    टिप्पणियों से किसी को, देना मत सन्ताप।।
    मित्रभाव से सभी को, देना सही सुझाव।
    शिष्ट आचरण से सदा, अंकित करना भाव।।

    ReplyDelete
    Replies
    1. बहुत सुन्दर मंच है, और बहुत बढ़िया ब्लॉग्स! मेरी पोस्ट को इसमें शामिल करने के लिए अनेक धन्यवाद् डॉ.शास्त्री!

      Delete
  5. Amit, thanks for your glowing introduction to the blog and the post. I hope that it encourages more people to explore Hindi poetry blogging, and introduces more people to fine Hindi poetry online. It is the company of bloggers like you that motivated me to look this topic up, and I am truly blessed to have been able to undertake this journey. Respects to you guys.

    ReplyDelete
    Replies
    1. We, who find mention in your work, and those who don't for various reasons, all are obliged! Thank you Subho:)

      Delete
  6. सुन्दर परिचय कराया है..आभार..

    ReplyDelete
  7. I have always admired your work ..be it Hindi or English. When you say poem and indiblogger the first name that pops in my mind is yours. I belong to the south of India and I always feel proud when friends complement me on my Hindi. Your poems are always easy to understand and they just strike a chord somewhere. Wishing you all the best...

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks a lot Tangy:) you're so kind and generous:)I'm indebted!

      Delete
  8. बहुत बढ़िया प्रेरक प्रस्तुति के लिए आभार

    ReplyDelete
  9. अनेक धन्यवाद कविता:)

    ReplyDelete
  10. बढ़िया परिचय...
    सादर आभार।

    ReplyDelete
  11. Thank you so much S.M.HABIB!

    ReplyDelete